तो यहां ट्रेनिंग लेती हैं रियल दंगल की ‘धाकड़ छोरियां’…

 

नई दिल्ली। बॉलीवुड में धमाल मचाने वाली फिल्म दंगल ने दर्शकों के दिल में खास जगह बना ली। लेकिन क्या आपको बता है रियल दंगल के बारे में? प्रेमनाथ आखाड़े में कई लोग कुश्ती कि ट्रेनिंग लेने आते हैं। प्रेमनाथ अखाड़े में ग्राउंड फ्लोर पर मिट्टी का अखाड़ा है और पहली मंजिल पर बने  बड़े से हॉल में मैट पर कुश्तियां होती हैं। खासबात यह है कि अब अखाड़े में ‘दंगल’ करने के लिए ज्यादा लड़कियां सामने आ रही हैं। अब पहले से ज्यादा लोग अपनी लड़कियों को अखाड़ों में ट्रेनिंग के लिए भेज रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक प्रेमनाथ अखाड़े के मुख्य कोच विक्रम कुमार ने बताया कि हमने यहां 2006 से पांच लड़कियों के साथ महिला कुश्ती की शुरुआत की थी। उसके बाद मेहनत करते गए और कारवां बढ़ता गया। अब यहां करीब 30 लड़कियां सीखती हैं। स्व़ प्रेमनाथ के बेटे विक्रम कुमार बताते हैं कि दूसरे राज्यों की 10 लड़कियां इसी अखाड़े की तीसरी मंजिल पर रहती हैं।

वहीं, बाकी लड़कियां में से कुछ यही आसपास की हैं और कुछ एनसीआर से आती हैं। 38 किलो वेट कैटिगरी में खेलने वाली शैलजा जूडो और रेसलिंग की बेहतरीन खिलाड़ी है। वह सोनीपत से भी करीब 15 किमी आगे गन्नौर से रोजाना शाम को 3:30 बजे तक अखाड़े में आ जाती है और करीब 6 बजे वह अपनी प्रैक्टिस खत्म करके यहां से निकल जाती है।

उन्होंने आगे बताया कि 13 साल की किरण हर दिन बागपत से आती हैं और वह एक दिन भी अपनी प्रैक्टिस मिस नहीं करती हैं। एक महिला पहलवान रोहतक और 4 लोनी से आती हैं। पिछले दिनों महिला केसरी बनी भोपाल की जया अखाड़े के हॉस्टल में रहती हैं जबकि बड़ौत की पहलवान पास ही एक पीजी में रहती है, बाकी लड़कियां घंटाघर, गुड़मंडी और आसपास की हैं।

वहीं, विक्रम बताते हैं कि शुरू में लड़कियों को कुश्ती में लाने पर उनका भी विरोध हुआ था। यह लड़कों का खेल है और इसमें लड़कियां नहीं आनी चाहिए। जो गलती दूसरे अखाड़े कर रहे हैं, वह तुम मत करो। लेकिन कोच विक्रम ने किसी की नहीं सुनी।

आपको बता दें कि इस अखाड़े की सबसे पुरानी खिलाड़ी दिव्या सैन अब तक करीब 53 मेडल जीत चुकी है। 67 किलो वेट कैटिगरी की रेसलर दिव्या ने पिछले दिनों पटना में हुई जूनियर नैशनल चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता है।

 

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *