पंजाबी महिलाओं को सेक्स टॉय ज्यादा पसंद है

नई दिल्ली। भारत में सेक्स टॉय का क्रेज बढ़ता जा रहा है ।हालांकि विकसित देशों में लोग काफी समय से उपयोग कर रहे हैं ।कई विकसित देशों में सेक्स टॉय खुलेआम बाजारों में बिकते हैं । जबकि भारत दुनिया में छठे स्थान पर है और यौन सक्रिय देशों में शामिल है। भारत में सेक्स टॉय करोल बाग और पालिका बाजार और मुंबई के क्रॉफर्ड बाजार  में बिक रहे हैं।अब उन्हें लोग आसानी से ऑनलाइन भी  खरीद रहे हैं।

भारत में है यह क़ानून
भारत में सेक्स टॉय की बिक्री आईपीसी के सेक्शन 292 (1 ) के तहत गैरकानूनी है। पहली बार कसूर साबित होने पर 2 साल की सजा है जबकि इसके बाद दोषी ठहराए गए तो पांच साल की सजा का प्रावधान है।साइबर एक्सपर्ट पवन पवन दुग्गल का कहना है कि ऑनलाइन गैरकानूनी गतिविधियों को रोकने के देश में कानून बेहद कमजोर है। ऑनलाइन बाज़ार को रेगुलेट करने के लिए कोई अलग से कानून नहीं। ऐसे में इस तरह की गतिविधि को रोकने के लिए ऑनलाइन मार्केट पर निगरानी जरूरी है।हालांकि, सेक्स उत्पाद खरीदने वाले पुरुषों और महिलाओं की संख्या के बीच अभी भी तेज अंतर है।

 

 

thatspersonal कंपनी ने सेक्स को लेकर एक चौंकाने वाला सर्वे पेश किया। सर्वे में इस बात का दावा किया गया कि भारत के लोगों को संबंध बनाने की जगह सेक्स टॉय ज्यादा पसंद आ रहा है। अब तक उन्होंने 80,000 से अधिक ऑर्डर के आंकड़ों का विश्लेषण किया है। उनका कहना है कि भारत में 62% ग्राहक पुरुषों हैं। केवल 38% महिलाएं हैं।महिलाओं के लिए सबसे अधिक महिलाएं इंटीमेट मसाजर को पसंद किया गया । वही पुरुषों को सबसे ज्यादा पसंद lubricant है। भारतीय सेक्स आइटम जो खरीदते हैं वह हैं विलंब स्प्रे, सेक्सी लैंज़रीज, रिंग्स, कंडोम और ‘सेक्स कैसीमेंट’ लोशन। ये सेक्स उत्पाद हैं जो भारतीय खरीदते हैं। पंजाब की महिलाएं सूची में शीर्ष स्थान पर हैं। यहां की महिलाओं ने सेक्स टॉय को खरीदने में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। जिन महिलाओं ने जिसे सबसे ज्यादा पसंद किया वो इंटीमेट मसाजर dildos प्रोडक्ट्स’ था। ये सबसे बड़ी संख्या में पंजाब की महिलाओं को बेचा गया ।

भारत में बढ़ते सेक्स टॉय कारोबार को देखते हुए भारतीय अभिनेत्री सनी लियोन को एक सेक्स उत्पाद बनाने वाली कंपनी ने अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *