दिल्ली के अच्छे दिन आने वाले हैं !

नई दिल्ली। दिल्ली के अच्छे दिन आने वाले हैं। दिल्ली के साथ ही पंजाब और हरियाणा के भी अच्छे दिन आएंगे लेकिन अच्छे दिन आने में अभी करीब सात साल लग सकते हैं। पहेलियां न बुझाते हुए आपको बताते हैं कि ये अच्छे दिन कैसे आएंगे और इसमें इतना वक्त कैसे लगेगा।

केंद्र सरकार और रेल मंत्रालय ने तय कर लिया है कि दिल्ली और अमृतसर के बीच बुलेट ट्रेन चलाई जाएगी। ये ट्रैन ढाई घंटे में दिल्ली से अमृतसर तक पहुंचेगी और ये सफर 458 किलोमीटर का होगा। इसके जो स्टापेज अभी तय किए गए हैं उनमें अंबाला, चंडीगढ़, लुधयाना और जालंधर शामिल हैं। इसमें किराया भी शताब्दी के एक्जीक्यूटिव श्रेणी का होगा। बुलेट ट्रेन के प्रोजेक्ट में करीब एक लाख करोड़ रुपए का खर्चा आएगा। इसके लिए भी केंद्र सरकार ने प्लान तैयार कर लिया है। इसके लिए वर्ल्ड बैंक से बात की जाएगी और दूसरे देशों से भी। इसके जरिए फंड का इंतजाम होगा।

इसके पहले फ्रेंच कंपनी सिस्ट्रा ने दिल्ली अमृतसर बुलेट ट्रेन रूट के लिए प्रोजेक्ट तैयार किया और उसमें आने वाली जरूरतों का ब्यौरा जुटाया है। ये जानकारी राज्यसभा सांसद श्वेत मलिक ने दी है। उनका कहना है कि वो बुलेट ट्रेन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वित्त मंत्री अरुण जेटली और रेल मंत्री सुरेश प्रभु के सामने ये मांग उठाते रहे हैं और अब इसमें कामयाबी मिल गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में एक है बुलेट ट्रेन का सपना। केंद्र सरकार ने सबसे पहले मुंबई अहमदाबाद रूट के लिए बुलेट ट्रेन का प्रोजेक्ट बनाया था और अब ये देश में दूसरा प्रोजेक्ट है जो दिल्ली और अमृतसर के बीच होगा।

 

आपको बता दें कि जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे तीन दिन के दौरे पर भारत आने वाले हैं। उनका य दौरा 13 से 15 सितंबर तक रहेगा। इस दौरे में बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट की शुरूआत होने वाली है। मुंबई अहमदाबाद प्रोजेक्ट की सेरेमनी में वो हिस्सा लेंगे। इस दौरान रेल लिंक के भूमि पूजन का कार्यक्रम होगा। मुंबई अहमदाबाद की बुलेट ट्रेन पर करीब एक लाख करोड़ का खर्च आना है। इसे 2023 तक शुरू किए जाने की योजना है। ये रूट 500 किलोमीटर का होगा।

इस ट्रेन में जापानी की तकनीक का उपयोग किया जाएगा। इसे शिंकानसेन कहा जाता है।माना जा रहा है कि इस रूट पर किराया 3300 रुपए के आसपास होगा। इसकी अधिकतम स्पीड 350 किमी हर घंटे होगी और 320 किमी हर घंटे की रफ्तार से औसत रहेगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *