‘प्रेम’ ने सिखाई जंगल में प्रेम की भाषा

नई दिल्ली ।  सुबह के चार बजे थे मैं संजय वन में गहरा पहुँच चुका था।  गहन अँधेरा और गहरा जंगल।  बचपन से कहानियां सुनी थीं कि पृथ्वीराज चौहान के बच्चे आज भी संजय वन में चीखते चिल्लाते हैं।  पृथ्वीराज …

Read more

बाघिन और योगी के बीच जंगल का रहस्य

नई दिल्ली । रात के 1 बज चुके थे और हमारी जीप को जंगलात विभाग के लोगों ने ऋषिकेश में रोक लिया। फॉरेस्ट विभाग के लोगों ने बताया कि आगे हाथियों के झुण्ड बैराज के पास खड़े हैं। खैर जब …

Read more

जंगलों में छिपे हैं असल योगी

नई दिल्ली । रात को बैंगलोर एयरपोर्ट पर उतरा तो रमेश मुनियप्पा भैया मुझे लेने बाहर खड़े थे। टोनी, मैं और रमेश भैया रात को बैंगलोर में ही रुके और सुबह हम मैसूर के लिए निकल पड़े। रास्ते में रमेश …

Read more